3 Real Horror Story In Hindi: डरावनी हॉरर स्टोरी अकेले न पढ़ें (1)

आज की सच्ची कहानी Real Horror Story In Hindi भूतिया है जिन्हें डर लगे वो कृपया न पढ़ें तो आइए कहानी शुरू करते हैं

नमस्कार दोस्तों हमारे इस सच्ची कहानी Web Page के नई कहानी में आपका स्वागत है मुझे उम्मीद है की आप इस कहनी से आप कुछ जरूर सकारात्मक चीज सिखेंगे और आपको हमारे द्वारा लिखी कहानी अच्छी लगी हो तो कृपया आप निचे दी गई लाल वाली घंटी को जरूर दबाकर सब्सक्राइब करें.

Real Horror Story In Hindi

Real Horror Story In Hindi
Horror Story

ये बात मेरी गांव की है। जब मैं छुटियों में गांव घूमने गया था। मेरे गांव में एक पुरानी खंडहर हवेली है जिसमे करीब 65 सालों से वहां कोई नहीं रहता ! ये बात मुझे मेरे गांव के दोस्तों ने बताया।

जब ये बात मुझे पता चली तो मेरा मन करने लगा की मैं एक बार उस हवेली को देखूं। मुझे ऐसी जगहों पर जाना उनके बारें में जानने में बहुत दिलचस्पी होती है। फिर एक दिन मैं अपने दोस्तों के साथ वहां जाने का प्लान बनाता हूँ। और उस खंडहर हवेली के सामने पहुंच जाता हूँ। वहां दूर-दूर तक कोई आता जाता नहीं था।

मैंने जब ये बात अपने दोस्तों से पूछी की यहाँ अगल बगल कोई रहता कोई नहीं ! बल्कि लोग इस रास्ते भी आ जा नहीं रहे हैं ऐसा क्यों? तो मेरे दोस्तों ने बताया ये हवेली सिर्फ पुरानी और खंडहर नहीं है। बल्कि ये हवेली एक भूतिया श्रापित हवेली है।

मैं बोला ऐसा तुम इतने यकीन से कैसे कह सकते हो। मेरे दोस्तों ने कहा यहाँ पुरे गांव का यही मानना है। इसके बारें में एक बहुत पुरानी और सच्ची घटना यहाँ प्रसिद्ध है। मेरे मन में इसके बारें में जानने का ख्याल और बढ़ने लगा। मैंने पूछा क्या है इसके पीछे की कहानी? तब उनमे से एक दोस्त ने मुझे बताना शुरू किया।

आज से करीब 65 साल पहले इस हवेली के मालिक बहुत बड़े ज़मीदार हुआ करते थे। उनकी एक पत्नी भी थी जो बहुत सुन्दर थी उनका नाम सुलेखा था। उस समय ही डाकुओं के भी खौफ से लोग डरते थे। डाकुओं की टुकड़ी जिस गांव में भी घुसती थी! उस गांव को पूरी तरह बर्बाद कर देती थी।

The Haunted Mansion Horror Story In Hindi (जमींदार का क्या हुआ)

एक बार डाकुओं के सरदार को जमींदार के धन, और संपत्ति पर नजर पड़ी। जिसके बाद उसने ज़मीदार के घर डकैती डालने का सोचा। इस पर सभी डाकुओं ने हाँ कर दिया। फिर एक दिन वो भी गया जो ज़मीदार ने कभी सोचा भी नहीं होगा। (The Haunted Mansion Horror Story In Hindi )


Google News
Google News

डाकुओं ने एक दिन ज़मीदार के हवेली पर रात में डकैती मार दी। ज़मीदार ने भी अपनी सुरक्षा के लिए पहले से ही कुछ सिपाही और नौकर रखे हुए थे! जो डाकुओं के हवेली पर आने पर उनसे लड़ पड़े।

क्योंकि जमींदार के सिपाही और नौकर बहुत कम और साधारण हथियार के साथ थे ! वहीं डाकुओं की संख्या बहुत ज्यादा थी और अच्छे हथियार के साथ लैश थे। जिसकी वजह से ज़मीदार के सिपाहियों और नौकरों को कुछ ही देर में मार डाला।

ये सब ज़मीदार देखने के बाद सोचा। इससे पहले की डाकू हवेली का दरवाजा तोड़कर अंदर घुस जाये! उसे अपनी पत्नी और खजाने को छुपा देना चाहिए। फिर उसने उस खजाने को एक हवेली में ही किसी खुफिया जगह पर छुपा दिया।

और अपने पत्नी को एक कमरे के अंदर एक और खुफ़िये कमरे में छुपा दिया। और बाहर से कमरा बंद कर दिया। इसके बाद कुछ ही देर में डाकू हवेली का दरवाजा तोड़कर अंदर घुस गए! जिसमे ज़मीदार की मौत डाकुओं के हाथों हो गयी।

ir?t=magical07f 21&language=en IN&l=li3&o=31&a=B074CWD7MS

पर ज़मीदार ने मरते-मरते अपने खजाने का पता उन डाकुओं को नहीं बताया। डाकुओं ने खजाने को बहुत खोजा पर वो नहीं मिला। फिर डाकू वहां से हवेली की कीमती सामने के लेकर वहां से चले गए।

Real Horror Story In Hindi)जमींदार की पत्नी का क्या हुआ)

पर ज़मीदार की पत्नी जो एक खुफिये कमरे बंद थी उसका पता किसी को नहीं था। (Real Horror Story In Hindi)

उसकी पत्नी बहुत चिल्लाई, लोगों को बुलानी की कोशिश की, कमरे के दरवाजे को तोड़ने कोशिश की! पर वो अंत तक कुछ नहीं कर सकी। और भूख प्यास से वो तड़प तड़प कर वहीं मर गयी।

उसके मरने के बाद उसके लाश के बदबू से लोग हवेली में गए और उस कमरे को तोड़कर उसके लाश को वहां से निकालकर उसका अंतिम संस्कार किया।

कहा जाता है की, आज भी वो अपने पति का इंतज़ार उस कमरे करती है! उसका पति कभी तो आएगा और उसे उस कमरे से आज़ाद करेगा।

और आज भी उसे उसके हवेली में घुसपैठिये, या उसके बिना इजाजत के अंदर आने वालों को सजा देती है।

आज भी श्रापित है वो हवेली

मैंने अपने दोस्तों ये कहानी सुन कर उन पर विश्वास नहीं किया। मैंने पूछा क्या यार तुम लोग भी न कब की बात आज तक लेकर बैठे हो। इसका कोई सबूत है तुम लोगों के पास? तो उन लोगों ने बोला कुछ लोगों ने इस हवेली में जाने की और वहां रुकने की गलती की थी। जो आज तक इस सदमे को भूल नहीं पाए हैं।

मैंने पूछा ऐसा क्या हुआ था उन लोगों के साथ इस हवेली में? तब दोस्तों ने मुझे बताया। एक बार एक अपराधी जेल से भाग जाता है और इस हवेली में आकर छुप जाता है। उसके बाद कोई कुछ नहीं जानता की उस हवेली में उसके साथ क्या हुआ था? बस दूसरे दिन उस अपराधी की लाश उस हवेली में मिली।

मैंने बोला ये हादसा भी हो सकता है। तो उन लोगों ने कहा एक बार एक चरवाहा उस हवेली में एक रात रुकने के लिए रुक जाता है। जो सुबह ज़िंदा उस हवेली से तो बाहर आ जाता है। पर अपना मानसिक संतुलन खो देता है। तब से वो आज तक पागल है।

ये सब बातें सुनकर मेरी हिम्मत नहीं हुयी उस हवेली के अंदर जाने की। इसलिए हम लोग वहां से घर चले गए। और दोबारा फिर मैं कभी उस हवेली को देखने नहीं गया।

चुड़ैल का कंगन (Creepy Witch Story In Hindi)

Thriller Horror Witch Story In Hindi, चुड़ैल का कंगन खौफनाक हॉरर स्टोरी
Horror Story

एक बार की बात है एक लड़की थी जिसका नाम सारिका था। सारिका 15 साल की लड़की है। जो छुट्टियों में अपने गांव दादा दादी के घर घूमने जाती है।

सारिका जब अपने दादी के घर पहुँचती है तो उसके दादा दादी अपनी पोती से मिलकर बहुत खुश होते हैं। पर ये बात किसी को नहीं पता थी की जल्दी ही इनकी इस खुशी पर ग्रहण लगने वाला है।

सारिका का कुछ दिन तो उसके गांव में बहुत अच्छे से बीता। (Best Thriller Horror Story In Hindi) फिर एक दिन सारिका अपने सहेलियों के साथ गांव के बगीचे में खेल रही थी।

सारिका खेलते-खेलते आम के पेड़ को देखती है। उसके बाद वो अपने सहेलियों से कहती है चलो न आम तोड़ते हैं। सारिका ढ़ेले से आम को तोड़ने की कोशिश करती है। और उसका ढेला आम पर लग भी जाता है जिससे आम गिर जाता है।

पर आम गिरते हुए थोड़ी दूर मिटटी में दबे एक पोटली के पास चला जाता है। सारिका जब आम लेने वहां पहुँचती है तो उसे पोटली का थोड़ा हिस्सा उसे दिखाई देता है। वो सोचती है की क्या है ये?

ये सोचकर वो पोटली बाहर निकल लेती है। उस पोटली को खोलकर देखती है तो उसे उसमे कंगन मिलते हैं। जो बहुत पुराने दिख रहे होते हैं। सारिका को तो पता भी नहीं था की ये कंगन उसकी ज़िंदगी का सबसे भयानक हिस्सा बनने वाला है। वो कंगन उसे अपने और आकर्षित कर लेता है जिसकी वजह से वो उस कंगन में अपने घर लेकर चली आती है।

सारिका क्यों डर जाती है दादी की बातों से

घर आकर वो ये सारी बातें अपनी दादी को बताती है और वो कंगन भी दिखाती है। फिर दादी ने जो कहा वो सुनकर सारिका डर से कांपने लगती है। (New Horror Stories In Hindi)

दादी कहती हैं की वो पोटली कोई आम पोटली नहीं थी। वो एक चुड़ैल की पोटली थी। तुमने ये कंगन उस पोटली से निकालकर उस चुड़ैल को गुस्सा दिला दिया है। वो तुम्हारे पास जरूर आएगी।

सारिका डरते हुए दादी से बोलती है मैं समझी नहीं दादी वो क्यों और कैसे आएगी? दादी ने बोला ऐसी ही पोटली में भटकती हुयी आत्माओं को कैद करके जमीन में गाड़ा जाता है।

और तुमने उस पोटली को जमीन से निकाला है और उसका कंगन भी तुम लेकर आ गयी हो। तुम इस मनहूस कंगन के साथ उस चुड़ैल को भी अपने पीछे ले आयी हो! ऐसी भटकती हुयी गुस्सैल चुड़ैले अपना बदला लेती हैं। वो चुड़ैल भी हमसे अपना बदला लेने जरूर आएगी।

सारिका के साथ उस रात क्या हुआ

सारिका इस बात से डरती तो है पर उसे ज्यादा यकीन नहीं होता। वो जाकर अपने कमरे में सो जाती है। उसी रात को करीब 1 बजे उसके कमरे की लाइट जलने बुझने लगती है। सारिका की नींद खुलती है तो देखती है लाइट नहीं है।

वो अपने बिस्तर के बगल रखे टेबल पर पानी पीने के लिए मुड़ती है। तभी वो देखती है की टेबल के पीछे कोने में कोई औरत बैठी है। जिसकी आँखें एकदम लाल हैं और एक टक उसे ही देखी जा रही हैं।

सारिका चिल्लाते हुए अपने दादी के पास जाती है। पर दादी के कमरे में दादी उसको नजर नहीं आती। वो बरामदे में जाती है तो दादी उसको जमीन पर गिरी मिलती हैं! सारिका अपने दादा को खोजने जाती है पर उसके दादा उसे कहीं नजर नहीं आते।

जब वो पूरे घर में अँधेरे में खुद को अकेला पाती है तो डर के मारे बेहोश हो जाती है। सुबह उसकी नींद खुलती है तो उसे अपने दादा दादी दिखते हैं। वो अपने दादी को सारी कहानी बीते रात की बताती है।

दादी बोलती हैं हम दोनों अपने कमरे में ही थे। दादी सब समझ गयी उन्होंने बोला ये सब उस चुड़ैल का किया है। वो कंगन उस पोटली में वापस रखना होगा। वरना वो यहाँ से नहीं जाएगी।

सारिका बोलती है चलो न दादी अभी कंगन रख आते हैं। दादी बोलती हैं नहीं! उस चुड़ैल से पीछा छुड़ाना है तो तुम्हे अकेले ही वो भी रात में जाकर उस कंगन को वहां रखना होगा! क्योंकि वो तुम्हारे पीछे है।

सारिका हिम्मत करके कहती है ठीक है मैं जाऊँगी। दादी ने बोला ये सब वो चुड़ैल इतनी आसानी से नहीं करनी देगी। इसलिए दादी ने उसे रात में जाने से पहले एक मंत्रों से युक्त ताबीज उसके हाथ पर बाँध देती हैं।

क्या सारिका चुड़ैल से पीछा छुड़ा पायी

अब सारिका रात होने के बाद अकेले बगीचे की तरफ निकलती है। थोड़ी देर बाद उसे किसी के रोने की आवाज सुनाई देती है। पर दादी ने कहा था वो चुड़ैल तुम्हे अपनी तरह आकर्षित करेगी। तुम उसकी तरफ ध्यान मत देना! वरना वो तुझे अपने कब्जे में कर लेगी।

एक बार उसने तुम्हे अपने कब्जे में कर लिए तो फिर कोई कुछ नहीं कर पायेगा! वो तुम्हे मार भी सकती है। सारिका इस बात का ध्यान रखते हुए ईरफ़ोन लगा लेती है और गाना सुनते हुए चलने लगती है।

तभी कुछ दूर जाने पर उसका मोबाइल काम करना बंद कर देता है। फिर भी वो चलती रहती है और उस पोटली के पास पहुंच जाती है। तभी उसे महसूस होता है की पीछे कोई खड़ा है।

पर दादी ने कहा था उसकी तरफ मत देखना तो वो नहीं देखती है। और डर की वजह से वो पसीने से लतपत हो जाती है। फिर वो हिम्मत करते हुए उस पोटली को खोलकर उसमे कंगन रखती है और जमीन में गाड़ देती है।

और आँख बंद करके बहुत तेजी से वहां से भागती है। सीधे अपने घर आकर ही रूकती है। चुड़ैल से तो उसका पीछा छूट जाता है। पर वो इतनी डर जाती है की दूसरे दिन ही वापस शहर अपने मम्मी पापा के पास चली जाती है। सारिका की ज़िन्दगी का वो खौफनाक हिस्सा जिससे वो आज भी सोचने पर डर जाती है।

भूतिया फ्लैट (The Haunted Flat Ghost Story In Hindi)

Horror Story In Hindi
Horror Story

एक बार एक नया विवाहित जोड़ा नए शहर में रहने जाते हैं। मैंने तो आपको बताया ही नहीं की इनकी क्या कहानी है?

इस नए विवाहित जोड़े में लड़के का नाम विक्रम और लड़की का नाम साक्षी है! विक्रम की शादी को अभी कुछ ही महीने हुए थे। दोनों बहुत खुश थे।

एक दिन विक्रम की कंपनी वालों ने कंपनी के काम के लिए कुछ महीने के लिए विक्रम को दूसरे शहर में पोस्टिंग कर दी! कंपनी ने जो फ्लैट दिया उसमे ये लोग रहने जाते हैं।

पर इनको पता था इनकी ये इनकी ज़िन्दगी का सबसे डरावना सच बनने वाला है! (Scary Ghost Horror Story In Hindi)

पहले दिन ही साक्षी और विक्रम ने मिलकर पूरा फ्लैट सजा लिया! फ्लैट 2 BHK का था तो ज्यादा समय नहीं लगा।

विक्रम और साक्षी ने क्या देखा

ये लोग नए शहर में ढ़लने की कोशिश की बात एक दूसरे से करने लगे। और खाना खाकर अपने बैडरूम में सोने चले जाते हैं। देर रात में विक्रम की नींद खुल जाती है। वो पानी पीने के लिए उठता है! पलटकर जब वो साक्षी की तरफ देखता है तो उसे वहां साक्षी नहीं दिखती।

थोड़ी देर बाद विक्रम के गले पर दो हाथ पीछे से उसके ऊपर आते हैं। विक्रम चौंककर देखता है पीछे साक्षी खड़ी रहती है। साक्षी ने बोला क्यों चौंक गए मैं बाथरूम गयी थी। तुम क्यों जगे हो? विक्रम बोलता हूँ कुछ नहीं बस पानी पीने के लिए जगा था। ये लोग फिर सो जाते हैं।

सुबह उठकर साक्षी दोनों के लिए नास्ता और खाना बनाती है। विक्रम नास्ता करके अपना टिफ़िन लेकर काम पर निकल जाता है। साक्षी अपने फ्लैट में अकेली सोच रही होती है। चलो जो बाकि का काम है उसे ही कर लेती हूँ।

वो कपड़े धुलने के लिए वाशिंग मशीन की तरफ जाती है। फिर मशीन में कपड़े धुलने के लिए डालकर वहां से चली जाती है। थोड़ी देर बाद वो वापस आती है तो देखती है की कपड़े तो वाशिंग मशीन में है ही नहीं।

वो घबराकर इधर उधर ढूढ़ते ढूढ़ते अपने बैडरूम में पहुँचती हैं। वहां उसके सारे गीले कपड़े उसके बिस्तर पर थे! वो ये सब समझ नहीं पाती है। शाम को विक्रम के घर आने के बाद उसे ये सारी बातें बताती है। विक्रम इसे वहम समझकर बात काट देता है।

विक्रम क्यों डर गया

रात में दोनों अपने बैडरूम में सोने चले जाते हैं। तभी रात में किसी की तेज तेज सांस लेने की आवाज विक्रम को सुनाई देती है। विक्रम धुंधली आँखों से बैठता है और मुड़कर देखता है। तो वो बिस्तर से डर के मारे गिर जाता है।

वो देखता की बिस्तर पर साक्षी के बगल में कोई काला साया सोया है जो एक आदमी की तरह दिख रहा था। विक्रम दौड़कर बाथरूम में जाकर पहले अपनी आँख धोता है। वापस आकर फिर देखता है तो अब वहां कोई नहीं रहता।

विक्रम को लगता है की ये ठीक से न सोने की वजह से भ्रम हो रहा है। (Real Horror Story in Hindi) इसी तरह 1 हफ्ता बीतने के बाद दोनों अब तक कई बार डर का सामना कर चुके थे। पर वो उसे भ्रम मानकर बार-बार टाल देते थे।

क्या थी उस भूतिया फ्लैट की सच्चाई

फिर एक दिन रात में दोनों अपने बिस्तर पर सोये थे। कुछ देर बाद बिस्तर हिलने लगता है। दोनों की नींद खुल जाती है। पहले साक्षी उठती है तो सब नार्मल था। (Real Ghost Story In Hindi)

फिर भी वो चेक करने के लिए बिस्तर के नीचे झांकती है! और जैसे ही वो बिस्तर के नीचे झांकती है कोई उसका बाल पकड़कड़ बिस्तर के नीचे खींच लेता है। साक्षी चिल्लाती है तो विक्रम जग जाता है। और वो बिस्तर के नीचे उतरकर साक्षी को देखता है! और देखते ही वो पीछे की तरफ गिर जाता है।

वो देखता है साक्षी के लेती हुई उसकी तरफ देख रही है! और साक्षी के पीछे कोई है जो साक्षी का सिर ज़मीन पर दबाया हुआ है। वो फिर भी टोर्च जलाता है तो वहां कोई नहीं रहता। फिर वो साक्षी को बाहर निकालता है! दोनों बहुत डर जाते हैं।

विक्रम और साक्षी दोनों कमरे से बाहर जाने की कोशिश करते हैं। पर कोई दरवाजे का पास खड़ा रहता है! दोनों की हिम्मत नहीं होती आगे बढ़ने की। तभी विक्रम अपना टोर्च जलने की सोचता है। टोर्च काम नहीं करता! इस दौरान वो देखता है साक्षी उसके बगल नहीं है।

वो इधर उधर देखता है तो साक्षी दरवाजे के पास खड़ी होती है। और डर के इशारे में कहती है तुम्हारे पीछे है वो! विक्रम डरते हुए पीछे पलटता है तभी उसे एक जोर का मुक्का पड़ता है! जिससे वो ज़मीन पर गिर जाता है। उसके बाद उसके ऊपर कमरे के सामानों से हमला होता है। विक्रम को काफी चोट आ जाती है।

क्या दोनों में भागने में कामयाब हुए

उधर साक्षी दरवाजा खोलने में कामयाब हो जाती है। वो तुरंत विक्रम को उठाती है और वहां से निकलने लगती है। तभी दोनों को पीछे से एक जोर का धक्का लगता है जिससे वो सीधे फ्लैट के बाहर गिरते हैं! वो तुरंत ही लिफ्ट में चले जाते हैं।

और बिल्डिंग के बाहर पहुंचने के बाद देखते हैं। कोई साया उनके फ्लैट की खिड़की पर खड़ा है ! जो थोड़ी देर में गायब हो जाता है। और फ्लैट की लाइट भी बंद हो जाती है। विक्रम और साक्षी इस बात को समझ चुके थे ये फ्लैट हॉन्टेड है! और वो दोनों दूसरे दिन मैनेजर को भेजवाकर अपना सामान वहां से निकलवा लिया।

और वो दोनों कहीं और रहने चले गए! पर ये हादसा आज भी उनकी रात की नींद उड़ा देता है। (Scary Horror Story In Hindi)

Leave a Comment

Bajaj Auto के सहयोग से Triumph Motorcycles ने लॉन्च किया शानदार Bike बम्पर मुनाफा देगी Cyient Dlm Ipo ड्रोन बनाने वाली कम्पनी के IPO के लिए मारामारी मनीष कश्यप की घर वापसी होने वाली है लियोनेल मेस्सी परिवार के साथ मना रहें 36 वां जन्मदिन