Sarla Thakral Biography In Hindi | Sarla Thakral Google Doodle 2021

आज भारत में Sarla Thakral Biography In Hindi जी की 107 वीं जयंती मनाई जा रही है जिसे Google ने भी अपने अंदाज में Sarla Thakral जी को याद किया है।

नमस्कार 🙏  मैं आप सबको अपने सच्ची कहानी इस पेज में आप सबका स्वागत करता हूं आप सब को अगर मेरे द्वारा प्रस्तुत की गई कहानी अच्छी लगी हो और उससे आप को कोई जानकारी प्राप्त हुई हो तो आप अपने दोस्तों में और Facebook पर शेयर करें। अगर आप चाहते हैं की कोई भी कहानी छूटे नहीं तो आप हमारे Web Page को नीचे दिए घंटी को दबाकर जरूर SUBSCRIBE करें.

सरला ठकराल भारत की पहली महिला पायलट थीं जिन्होंने विमान उड़ाया था इतिहास में उन्हें Super Women के तौर पर याद किया जाता है तो आइए हम सब भी अपने इस आर्टिकल के माध्यम से उनको याद करते हुए उनके बारे में जानते हैं..

Sarla Thakral Biography In Hindi सरला ठकराल जी की प्रारम्भिक जीवन

Sarla Thakral Biography In Hindi sarla Thakral 1
Photo Instagram

सरला ठकराल जी का जन्म 08 अगस्त 1914 ई० में दिल्ली में हुआ था सरला जी का परिवार सुखी संपन्न था फिर भी उनकी शादी 16 वर्ष की उम्र में कर दिया गई थी। सरला जी का बचपन से ही इच्छा थी की वो कुछ बड़ा करे लेकिन जब तक वो अपने घर वालों को बताती उससे पहले उनकी शादी हो गई और लाहौर चलीं गईं।

सरला जी की किस्मत इतनी अच्छी थी की ससुराल वाले आधुनिक विचार के थे और उनके पति और ससुर भी पायलट थे तो उन्होंने अपनी पति से इच्छा जाहिर की तो परिवार वालों ने तुरंत दिल्ली पायलट क्लब में दाखिला दिला दिया जहां से उन्होंने करीब एक हजार घंटे का Experience मिला और उनको विमान उड़ने की लाइसेंस A ग्रेड प्राप्त हुआ।

Sarla Thakral जी ने साड़ी पहनकर जहाज उड़ाया

जब पूरे भारत में महिलाएं घर की काम और खेतों में काम किया करती थीं और पर्दे में रहकर अपना जीवन व्यतीत करती थीं तब Sarla Thakral जी ने वर्ष 1936 ई० में मात्र 21 वर्ष की उम्र में पहली बार साड़ी पहनकर दो पंखों वाली जहाज को उड़ाई थीं।

उसके अगले दिन पूरे भारत हीं नहीं बल्कि विश्व की प्रतिष्ठित अखबार के पहले पेज पर इनकी फोटो छपी थी भारत के समाचार पत्रों ने तो ये भी लिखा था कि “अब आसमान सिर्फ पुरषों का नहीं बल्कि महिलाओं का भी है“।

Sarla Thakral जी ने पाकिस्तान में उड़ाया प्लेन

Sarla Thakral Biography In Hindi सरला ठकराल
photo Instagram

Sarla Thakral जी ने वर्ष 1936 से 1939 तक कराची से लाहौर तक 3 वर्षों तक प्लेन उड़ाया. 1939 में इनके पति की मृत्यु प्लेन हादसा में हो गई तो इन्होंने जहाज उड़ाना छोड़ दिया और अपने बच्चों के साथ दिल्ली वापस आ गईं।

Google News

दिल्ली आने के बाद उन्होंने ज्वेलरी डिजाइनिंग सिखी और इस क्षेत्र में भी सफल बिजनस वूमेन बन गईं। जरूर पढ़ें 👉 Gold Medalist Niraj Chopra Biography In Hindi

Sarla Thakral जयंती पर Google Doodle ने कहा (Sarla Thakral Biography In Hindi)

Sarla Thakral Google Doodle 2021 चलाया है जिस पर Google ने अपना विचार व्यक्त किया है- “हमने पिछले वर्ष ही Doodle चलाने का निर्णय लिया था किंतु केरल में विमान हादसा होने के वजह से इसे रोकना पड़ा जिसके कारण इस वर्ष जब उनकी 107 वीं जयंती मनाई जा रही है तो हमने इसे चलाने का निर्णय हैै“।

सरला ठकराल जी का निधन (Sarla Thakral Biography In Hindi)

सरला ठकराल जी का निधन 94 वर्ष की उम्र में 15 मार्च 2008 को दिल्ली में हुआ था।

इसी तरह के प्रेरणादायक कहानी के लिए आप हमारे Web Page को लाल वाली घंटी बजाकर सब्सक्राइब जरूर करें और आपको इस आर्टिकल से कुछ सीखने को मिला है तो Plz आप अपने दोस्तों में WhatsApp Facebook पर जरूर शेयर करें

Sarla ठकराल बायोग्राफी
धन्यवाद

x
x
क्यों लगाया जाता है Bhai Dooj पर तिलक Happy Diwali Wishing Status, Quotes, Stories Nora Fatehi अपने Boyfriend के साथ नजर आईं Priya Prakash Varrier का Hot अवतार
%d bloggers like this: