Draupadi Murmu Biography In Hindi देश की दूसरी और आदिवासी समाज की पहली महिला राष्ट्रपति ‘द्रौपदी मुर्मू’ जी की कहानी 1

Draupadi Murmu Biography In Hindi: देश में 15th President Elections 2022 में संपन्न हो गया है हर बार की तरह इस बार भी दो राष्ट्रपति उम्मीदवारों के बीच चुनाव होंगे। इस बार कांग्रेस और विपक्षी दलों के तरफ से यशवंत सिन्हा जी को उम्मीदवार बनाया गया था और दुसरी तरफ से सता धारी पार्टी और उनके सहयोगी दल के तरफ से द्रौपदी मुर्मू जी को उम्मीदवार बनाया गया था।

नमस्कार 🙏  मैं आप सबको अपने सच्ची कहानी इस पेज में आप सबका स्वागत करता हूं आप सब को अगर मेरे द्वारा प्रस्तुत की गई कहानी अच्छी लगी हो और उससे आप को कोई जानकारी प्राप्त हुई हो तो आप अपने दोस्तों में और Facebook पर शेयर करें। अगर आप चाहते हैं की कोई भी कहानी छूटे नहीं तो आप हमारे Web Page को नीचे दिए घंटी को दबाकर जरूर SUBSCRIBE करें.

सता दल के पास बहुत ज्यादा वोट हैं इसलिए द्रौपदी मुर्मू जी को देश की दूसरी और आदिवासी समाज की पहली महिला राष्ट्रपति बन गईं हैं आइए जानते हैं इनके जीवन से जुड़ी जानकारी के बारे में (Draupadi Murmu Biography In Hindi)..

इन्हें भी पढ़ें.. Baba Saheb Ambedkar Ki Kahani | Dr. Bhim Rao Ambedkar Struggal Story (1891-1956)

Draupadi Murmu Biography In Hindi (द्रौपदी मुर्मू जी की जीवनी)

Draupadi Murmu Biography In Hindi
Draupadi Murmu

Draupadi Murmu Biography In Hindi: द्रौपदी मुर्मू का जन्म 20 जून 1958 को ओडिशा के मयूरभंज जिले के उपरबेड़ा गांव में संथाल आदिवासी परिवार में बिरंची नारायण टुडू के घर हुआ था। मुर्मू के पिता एक किसान थे द्रौपदी मुर्मू की शादी श्याम चरण मुर्मू से हुई थी दोनों के चार बच्चे हुए जिनमें दो बेटे और दो बेटियां। साल 1984 में एक बेटी की मौत हो गई, इसके बाद 2009 में एक और 2013 में दूसरे बेटे की अलग-अलग कारणों से मौत हो गई। 2014 में मुर्मू के पति श्याम चरण मुर्मू की भी मौत दिल के दौरा पड़ने से हो गई परिवार में अब सिर्फ एक बेटी है जिनका नाम इतिश्री है।

Draupadi Murmu Poltical Career (द्रौपदी मुर्मू का राजनीतिक जीवन)

Draupadi Murmu Poltical Career की बात करें तो इनका मुर्मू जी का परिवार राजनिति के खिलाफ था सभी लोगों ने माना किया लेकिन कुछ नेताओं ने इनको हिम्मत दी और फिर जाकर इन्होंने सबसे पहले पार्षद का चुनाव लड़ीं जिसमें वो सफल हुईं इसके बाद धीरे धीरे आगे बढ़ती गईं और आज देश के प्रथम नागरिक बनने का सौभाग्य प्राप्त हुआ मुर्मू जी के जीवन का कुछ घटना क्रम निम्न (Draupadi Murmu Biography In Hindi) हैं…

  • वर्ष 1997 में पहली बार BJP की तरफ से पार्षद की चुनाव लड़ीं और जीत दर्ज कीं।
  • वर्ष 2000 में BJP के द्वारा विधानसभा का टिकट दिया गया और इन्होंने जीत दर्ज कीं और राज्यमंत्री भी बनीं।
  • 2006 में भाजपा अनुसूचित जनजाति की अध्यक्ष बनाई गईं।
  • वर्ष 2009 में दूसरी बार राइरांगपुर से दूसरी बार विधायक चुनीं गईं।
  • साल 2015 में पहली बार झारखंड की राज्यपाल की जिम्मेदारी सौंपी गई।
  • अब जुलाई 2022 में देश की प्रथम नागरिक के रूप में राष्ट्रपति निर्वाचित हुई हैं।

Also Read.. True Inspiring Story Of Village Girl Sima 2022 ये सच्ची प्रेरणामत्मक कहानी जरूर पढ़ें

Draupadi Murmu Love Story (द्रौपदी मुर्मू की प्रेम कहानी)

द्रौपदी मुर्मू की प्रांभिक शिक्षा गांव में हीं की इसके बाद वर्ष 1969 से 1973 तक वह आदिवासी आवासीय विद्यालय में पढ़ीं। इसके बाद स्नातक की पढ़ाई के लिए उन्होंने भुवनेश्वर के रामा देवी वुमंस कॉलेज में दाखिला ले लिया। मुर्मू अपने गांव की पहली लड़की थीं, जो स्नातक की पढ़ाई करने के बाद भुवनेश्वर तक पहुंची थीं। कॉलेज में पढ़ाई के दौरान द्रौपदी की मुलाकात श्याम चरण से हुई। दोनों की मुलाकात बढ़ी, दोस्ती हुई, दोस्ती प्यार में बदल गई।(Draupadi Murmu Biography In Hindi)

Google News

श्याम चरण और द्रौपदी दोनों समान जाति के थे इसलिए श्याम चरण ने वर्ष 1980 में शादी का प्रस्ताव लेकर द्रौपदी के घर पहुंच गए। उस समय शादी के लिए परिवार की रजामंदी जरूरी थी इसलिए श्याम चरण अपने चाचा और कुछ रिश्तेदारों को लेकर द्रौपदी के घर गए थे। तमाम कोशिशों के बावजूद द्रौपदी के पिता बिरंची नारायण टुडू ने इस रिश्ते को लेकर इंकार कर दिया।

द्रौपदी मुर्मू और श्याम चरण का प्रेम इतना मजबूत हो गया था की दोनों ने अपने परिवार को कह दिया की अगर शादी होगी तो हम दोनों की होगी अन्यथा हम शादी नहीं करेंगें। श्याम भी पीछे हटने वाले में से थे नहीं ऐसे में श्याम चरण ने तीन दिन तक द्रौपदी के गांव में ही डेरा डाल लिया। थक हारकर द्रौपदी के पिता ने इस रिश्ते को मंजूरी दे दी।

Draupadi Murmu Marriage Story (द्रौपदी मुर्मू की शादी)

द्रौपदी और श्याम चरण की शादी के लिए दोनों परिवार राजी हो गए थे लेकिन फिर एक पेंच फस गई की दहेज क्या मिलेगा दोनों परिवारों में खूब माथा पची हुई तब जाकर यह तय हुआ की श्याम चरण की ओर से दहेज के रूप में द्रौपदी के घर वालों को एक गाय, एक बैल और 16 जोड़ी कपड़े दिए जाएंगे। दोनों के परिवार इस पर सहमत हो गए। (Draupadi Murmu Biography In Hindi)

दरअसल द्रौपदी जिस संथाल समुदाय से आती हैं, उसमें लड़की के घरवालों को लड़के की तरफ से दहेज दिया जाता है। कुछ दिन बाद श्याम से द्रौपदी का विवाह हो गया। बताया जाता है कि द्रौपदी और श्याम की शादी में लाल-पीले देसी मुर्गे का भोज हुआ था। तब लगभग सभी जगह यही बनता था।

Also Read.. आम आदमी से जबरदस्त छवि वाले नेता ऋषि सुनक की दिलचस्प कहानी

Draupadi Murmu FAQ

Q.1 President Elections 2022 में कौन सा होगा ?

Ans: वर्ष 2022 में 15 वां राष्ट्रपति चुनाव होगा।

Q. 2 क्या द्रौपदी मुर्मू जी चुनाव जीत सकती हैं ?

Ans: द्रौपदी मुर्मू जी को उम्मीदवार जिस पार्टी ने बनाया है वो वर्तमान समय में देश की सता पर काबिज है और उनके पास राष्ट्रपति बनने के लिए जितनी वोट की आवश्यकता है उससे अधिक है इसलिए यह तय माना जा रहा है की द्रौपदी मुर्मू देश की 15 वीं राष्ट्रपति बन सकती हैं।

Q.3 द्रौपदी मुर्मू किस समाज या समुदाय से आती हैं ?

Ans: जो व्यक्ति देश के पहले पायदान या सबसे ऊपरी सतह पर बैठा हो या बैठने जा रहा हो उसके बारे में जाती या समाज के नाम से जाना नहीं जाता है लेकिन हमारे देश की विडंबना है की लोग इस व्यक्ति के बारे में जानने या उससे सीखने के बजाय उसकी जाति, समुदाय और क्षेत्र के बारे में पहले जानना चाहतें हैं वैसे द्रौपदी मुर्मू जी आदिवासी समाज के संथाल समुदाय से तालुक रखती हैं।(Draupadi Murmu Biography In Hindi)

Q.3 द्रौपदी मुर्मू कितने वोट से चुनाव जीत दर्ज कीं ?

Ans: द्रौपदी मुर्मू ने राष्ट्रपति का चुनाव जीत कर देश की 15 वीं आदिवासी समाज की पहली और देश की दूसरी महिला राष्ट्रपति बनने का गौरव हासिल की हैं। इन्होंने अपने प्रतिद्वंदी यशवंत सिन्हा को 2,96,626 वोटों से पराजित की हैं।

 

x
x
क्यों लगाया जाता है Bhai Dooj पर तिलक Happy Diwali Wishing Status, Quotes, Stories Nora Fatehi अपने Boyfriend के साथ नजर आईं Priya Prakash Varrier का Hot अवतार
%d bloggers like this: