Motivational Story For Success IPS N. Ambika का हुआ था14 के उम्र में शादी के इसके बाद बनी आईपीएस

Motivational Story For Success IPS N. Ambika: क्या कभी किसी ने कहा है कि “समय को मत देखो बस मेहनत करो, एक दिन तुम्हारी मेहनत समय बदल देगी”। IPS अफसर एन ने इन बातों को सच दिखाया है।

नमस्कार 🙏  मैं आप सबको अपने सच्ची कहानी इस पेज में आप सबका स्वागत करता हूं आप सब को अगर मेरे द्वारा प्रस्तुत की गई कहानी अच्छी लगी हो और उससे आप को कोई जानकारी प्राप्त हुई हो तो आप अपने दोस्तों में और Facebook पर शेयर करें। अगर आप चाहते हैं की कोई भी कहानी छूटे नहीं तो आप हमारे Web Page को नीचे दिए घंटी को दबाकर जरूर SUBSCRIBE करें.

 

Motivational Story For Success IPS N. Ambika Biography In Hindi

Motivational Story For Success IPS N. Ambika
Ips Ambika

अंबिका (IPS अधिकारी एन. अंबिका)। तमिलनाडु निवासी एन. अंबिका ने 14 साल की उम्र में शादी कर ली और 18 साल की उम्र में दो बच्चों की मां बन गईं।

हालाँकि वह अपनी शादीशुदा ज़िंदगी से बहुत खुश थी, लेकिन उसके जीवन में एक घटना घटी, जिसके बाद उसने UPSC सिविल सेवा परीक्षा में बैठने का फैसला किया। उन्होंने यूपीएससी परीक्षा में बैठने के लिए अपनी छूटी हुई पढ़ाई फिर से शुरू की और IPS बनने तक हार नहीं मानी। उनके मुश्किल सफर में उनके पति ने भी उनका काफी साथ दिया।

14 की उम्र शादी और 18 में बनीं मां

अंबिका की शादी 14 साल की उम्र में डिंडीकल के एक पुलिस कांस्टेबल से हुई थी। वहीं, 18 साल की उम्र में वह दो बच्चों की मां भी बनीं। इतनी कम उम्र में शादीशुदा होने के कारण अंबिका अपनी स्कूली शिक्षा भी पूरी नहीं कर पाई थी। लेकिन वह अपनी शादीशुदा जिंदगी से काफी खुश थे। IPS बनने की बात तो दूर, आगे की पढ़ाई पूरी करने का उनका कोई इरादा नहीं था।

इस घटना ने IPS बनने को किया प्रेरित

वहीं एक बार अंबिका अपने आरक्षक पति के साथ गणतंत्र दिवस परेड देखने गई थीं. वहां उसने अपने पति को कई उच्चाधिकारियों को सलाम करते हुए देखा, जो शायद उसे पसंद नहीं था। घर आने के बाद जब अंबिका अपने पति से इस बारे में पूछती है तो वह कहता है कि वह मेरा वरिष्ठ अधिकारी है, इसलिए मुझे सैल्यूट करना पड़ता है.। यही वह घटना थी जिसने अंबिका को IPS बनने के लिए मजबूर किया।

अंबिका ने अपने पति से IPS बनने की प्रक्रिया और उसकी तैयारी के बारे में पूरी जानकारी ली। साथ ही, परीक्षा की तैयारी शुरू करने से पहले, उनके पति ने उन्हें एक IPS को मिलने वाले सम्मान के बारे में भी पूरी जानकारी दी। UPSC के बारे में सारी जानकारी प्राप्त करने के बाद, अंबिका ने सिविल सेवा परीक्षा देने का फैसला किया।

Google News

फिर से शुरू की छूटी हुई पढ़ाई

अंबिका के लिए यूपीएससी का सफर काफी लंबा था। इसके लिए अंबिका सबसे पहले अपनी छूटी हुई पढ़ाई फिर से शुरू करती है। उन्होंने निजी कोचिंग की मदद से 10वीं और फिर डिस्टेंस एजुकेशन से 12वीं पास की और ग्रेजुएशन पूरा किया। स्नातक होने के बाद, अंबिका ने यूपीएससी सिविल सेवा परीक्षा की तैयारी शुरू कर दी।

पति का मिला पूरा सपोर्ट

अंबिका अपने परिवार के साथ डिंडीगुल नामक के एक छोटे से कस्बे में रहती थी, यहां यूपीएससी की तैयारी के लिए कोई कोचिंग सेंटर नहीं था. ऐसे में अंबिका ने चेन्‍नई जाकर यूपीएससी परीक्षा की तैयारी करने का फैसला किया. इस फैसले में उनके पति ने उन्हें पूरी तरह से स्पोर्ट किया. उन्होंने चेन्नई में अंबिका के रहने और पढ़ने का पूरा इंतजाम कर डाला. परीक्षा की तैयारी के दौरान अंबिका के पति अपनी जॉब के साथ-साथ दोनों बच्‍चों को भी संभाला करते थे ताकि अंबिका के ऊपर किसी भी तरह का कोई दबाव ना आ सके.

कई असफलताएं भी नहीं तोड़ पाई हिम्मत

अंबिका ने यूपीएससी परीक्षा के लिए कड़ी मेहनत की, लेकिन फिर भी वह तीन बार परीक्षा में फेल हो गई। हालात भी ऐसे थे कि इतनी नाकामयाबी के बाद उसके पति और परिवार वाले उसे घर वापस जाने के लिए कहने लगे. अंबिका हार नहीं मानना ​​चाहती थी। इसलिए अंबिका ने अपने पति से यूपीएससी की परीक्षा देने का एक और मौका मांगा, जिसके लिए वह मान गए और अंबिका का आखिरी प्रयास सफल रहा।

x
x
इस हप्ते ये आने हैं वाले वेब सीरीज (Upcoming Web Series) दलित नेता बनेगा कांग्रेस का अध्यक्ष (Mallikarjun Kharge) Mirzapur वाले गुड्डू पंडित ने की शादी देखें तस्वीरें (Ali Weeds Richa) गन्दी बात अभिनेत्री Anvenshi Jain ने इंटरनेट पर मचाया कोहराम
%d bloggers like this: