Ganesh Chaturthi Essay | 2022 में गणेश चतुर्थी कब है | Ganesh Chaturthi Hindi Status

Ganesh Chaturthi Essay भारत के विभिन्न क्षेत्रों में मनाया जाता है लेकिन महाराष्ट्र में भगवान श्री गणेश की पूजा बहुत ही धूम धाम से किया जाता है गणेश चतुर्थी की पूजा अर्चना लोग बहुत हीं हर्षो उल्लास के साथ मनाते हैं और पंडाल भी सजाते हैं तो आइए जानते हैं Ganesh Chaturthi से जुड़े बातों को जानते हैं…

नमस्कार 🙏  मैं आप सबको अपने सच्ची कहानी इस पेज में आप सबका स्वागत करता हूं आप सब को अगर मेरे द्वारा प्रस्तुत की गई कहानी अच्छी लगी हो और उससे आप को कोई जानकारी प्राप्त हुई हो तो आप अपने दोस्तों में और Facebook पर शेयर करें। अगर आप चाहते हैं की कोई भी कहानी छूटे नहीं तो आप हमारे Web Page को नीचे दिए घंटी को दबाकर जरूर SUBSCRIBE करें.

Ganesh Chaturthi की शुरुआत कब और कैसे हुई ? (Ganesh Chaturthi Essay)

Ganesh Chaturthi Essay
गणपति बप्पा मोरया

Ganesh Chaturthi की शुरुआत कब और कैसे हुई इसकी सही जानकारी प्राप्त नहीं है लेकिन इतिहास के अनुसार गणेश चतुर्थी की पूजा सबसे पहले 1630 – 1680 के बीच महाराज छत्रपति शिवाजी के द्वारा अपने घरेलू पूजा में किया जाता था और महाराज छत्रपति शिवाजी के कुल देवता के रूप में भी श्री गणेश जी की पूजा होती थी इसके बाद धीरे धीरे समय बीतता गया और गणेश चतुर्थी पूजा का आयोजन का दायरा बढ़ता गाया। (Ganesh Chaturthi history)

1893 ई० में बाल गंगाधर तिलक द्वारा गणेश चतुर्थी की पूजा बड़े हीं धूम धाम से किया जाने लगा और जो ब्रह्मण और गैर ब्रह्मण लोग थे उनकी बीच की जो द्वेष भावना हमेशा रहती उसको पाटने के लिए सभी को इस पूजा में समलित किया जाने लगा। कुछ लोगों का मनाना है की अंग्रेजों द्वारा जो क्रूरता भारतीयों पर बरसाई जाती थी उससे बचने और उस दुःख की घड़ी से बाहर निकलने के लिए श्री गणेश जी कि पूजा किया जाने लगा।

हिंदू पौराणिक मान्यताओं के अनुसार गणेश चतुर्थी का आयोजन गणेश जी के जन्म दिवस माघ माह के चतुर्थी को हुआ था इसलिए इस दिन गणेश जी की पूजा किया जाता है। पहले ज्यादातर महाराष्ट्र में हीं पूजा होती थी लेकिन अब पूरे भारत में धूम धाम से पूजा होती है और अब तो भारत हीं नहीं बल्कि जहां भी जो लोग श्री गणेश जी के प्रति आस्था रखने वाले लोग हैं वो वहां इनकी पूजा करते हैं।

हिंदू धर्म के आदि आराध्य देव हैं गजानन (Ganesh Chaturthi Essay)

हिंदू धर्म के आदि आराध्य देव हैं गजानन, हिंदू धर्म में कोई भी शुभ पूजा – पाठ, शादी, यज्ञ, आदि किसी प्रकार का शुभ कार्य किया जाता है तो सबसे पहले श्री गणेश जी की पूजा होती है इसी बाद हीं कोई और देवी देवता की पूजा अर्चना की जाती है।

Ganesh Chaturthi 2022 पूजन का समय (Ganesh Chaturthi Kab Hai)

Ganesh Chaturthi 2022 में 31 अगस्त को मनाया जाएगा इस दिन भगवान श्री गणेश जी को लोग अपने घर और मंदिर आदि में पूजन करेंगें। आइए जानते हैं गणेश पूजन का समय सारणी..

  • गणेश चतुर्थी : बुधवार, 31 अगस्त 2022
  • गणपति प्रतिमा की स्थापना का मुहूर्त : 31 अगस्त सुबह 11.05 बजे से दोपहर 1.38 बजे तक
  • मध्याह्न गणेश पूजा मुहूर्त : सुबह 11:05 बजे से दोपहर 01:38 बजे तक (अवधि- 2 घंटे, 33 मिनट)
  • गणेश विसर्जन तिथि: शुक्रवार, 9 सितंबर 2022
  • चंद्र दर्शन से बचने का समय : 30 अगस्त दोपहर 03:33 बजे से रात 08:40 बजे तक
  • गणेश चतुर्थी 2022 : महत्व और अनुष्ठान
शहर अनुसार गणपति पूजन समय (Ganesh Puja Time 2022)
  • सुबह 11:24 से दोपहर 01:56 बजे तक – अहमदाबाद
  • सुबह 11:06 से दोपहर 01:34 बजे तक – बेंगलुरु
  • सुबह 11:06 से दोपहर 01:40 बजे तक – चंडीगढ़
  • सुबह 10:55 से दोपहर 01:24 बजे तक – चेन्नई
  • सुबह 11:05 से दोपहर 01:39 बजे तक – गुड़गांव
  • सुबह 11:01 बजे से दोपहर 01:31 बजे तक – हैदराबाद
  • सुबह 11:11 से दोपहर 01:43 बजे तक – जयपुर
  • सुबह 10:21 से दोपहर 12:52 बजे तक – कोलकाता
  • सुबह 11:24 से दोपहर 01:54 बजे तक – मुंबई
  • सुबह 11:04 से 01:37 दोपहर – नोएडा
  • सुबह 11:05 से दोपहर 01:38 बजे तक – नई दिल्ली
  • सुबह 11:20 से दोपहर 01:50 बजे तक – पुणे

Ganesh Chaturthi Wishes In Hindi (Ganesh Chaturthi Quotes)

कुछ WhatsApp Ganesh Chaturthi Wishes निम्न हैं..

Google News

दिल से जो भी मांगेंगे मिलेगा यहां
ये गणेश जी का दरबार है,
देवों के देव वक्रतुंड महाकाय को
अपने हर भक्त से प्यार है  Happy Ganesh Chaturthi

भगवान गणपति की कृपा
बनी रहे आप पर हर दम
हर काम में मिले सफलता
जीवन में न आए भी कोई गम
गणपति उत्‍सव की शुभकामनाएंं Happy Ganesh Chaturthi 2021

आप और आपके परिवार को
गणेश चतुर्थी की हार्दिक बधाई
Ganpati Bappa Morya

रिद्धि-सिद्धि के तुम दाता,
दीन दुखियों के भाग्य विधाता।
जय गणपति देवा।
गणेश चतुर्थी की हार्दिक शुभकामनाएंं Happy Ganesh Chaturthi Status

इन्हें भी पढ़ें👇

रक्षाबंधन की शुरुआत कब और कैसे हुई सम्पूर्ण इतिहास

 भगवान श्री कृष्ण की कहानी को जरूर पढ़ें (कृष्ण जन्माष्टमी)

ऐसे हीं सच्ची कहानी के लिए आप हमारे Web Page को लाल वाली घंटी बजा कर SUBSCRIBE कर लीजिए ताकि जब भी मैं कहानी आपके लिए लाऊं तो सबसे पहले आप पढ़ें और अगर पोस्ट अच्छी लगी हो तो अपने दोस्तों में जरूर शेयर करें। आप हमें किसी पोस्ट से संबंधित या कोई अन्य कहानी पढ़ने के लिए आप DM (Direct Massage) 👉 FACEBOOK INSTAGRAM PINTEREST  TWITTER किसी पर भी कर सकते हैं।

x
x
क्यों लगाया जाता है Bhai Dooj पर तिलक Happy Diwali Wishing Status, Quotes, Stories Nora Fatehi अपने Boyfriend के साथ नजर आईं Priya Prakash Varrier का Hot अवतार
%d bloggers like this: